Pehli Barish Shayari | पहली बारिश शायरी इन हिंदी

 जब कभी-भी बारिश होती है तो हमें हमारे अपने प्यारे तथा चहेते की याद आती है, उनके साथ बिताये सुनहरे पल को याद करते ही हमारे चहरे पर मुस्कान आ जाती है तथा दिल करता है कि ये बारिश पल उनके साथ फिर से बिताएं. मेरे दोस्तों अगर आप चहेतों के लिए Pehli Barish Shayari ढूंढ रहे हैं तो आप सही वेबसाइट पर आये हैं Pehli Barish Shayari को आप अपने Whatsapp status और Facebook स्टेटस पर शेयर कर सकते हैं.

इस वेबसाइट पर आपको pehli barish shayari hindi, pehli barish ki shayari, पहली बारिश शायरी इन हिंदी और बारिश पर सुविचार मिलेंगी और आपको इस पोस्ट के एन्ड में और भी लव से रिलेटेड पोस्ट भी मिलेंगी आप उनको भी पढ़ सकते हैं.

Pehli Barish Shayari Hindi

अब फुल भी मुस्कुराए, पंछी भी गायेंगे, सावन के आने से खेतों में फसल भी लहराए, जब आए ये सावन सब झिल मिलाए, सबको जीने की नई उम्मीद दिखलाए।
Pehli Barish Shayari

अगर तुमको बारिश पसंद है और मुझे बारिश में तुम,
अगर तुमको हँसना पसंद है और मुझे हस्ती हुए तुम,
अगर तुमको बोलना पसंद है और मुझे बोलते हुए तुम,
अगर तुमको सब कुछ पसंद है और मुझे बस तुम।
----

ए-बादल तू इतना बरस की नफ़रतें धुल जायें
इंसानियत तरस गयी है प्यार पाने के लिये
Pehli Barish Shayari

मजबूरियाँ ओढ़ के निकलता हूँ मैं घर से आजकल
वरना शौक तो आज भी है बारिश में भीगने का
----

बदली सावन की कोई जब भी बरसती होगी,
दिल ही दिल में वह मुझे याद तो करती होगी,
ठीक से सो न सकी होगी कभी ख्यालों से मेरे
करवटें रात भर बिस्तर पे बदलती होगी.
Pehli Barish ki Shayari

Pehli Barish ki Shayari

मुझे बारिश से ज़्यादा तासीर है तेरी यादों मे
हम अक्सर बंद कमरे मे भी भीग जाते हैं
----

सुहाना है बारिश का
मौसम दीवाना हूं मैं, तेरा
मेरा रूह पागल है तेरे प्यार में
करता है बस तेरा इंतजार..!
पहली बारिश शायरी इन हिंदी

जब जुल्फें जो उनकी खुल गई
लगता है सावन आ गया..
..अब कौन रोकेगा घटाओ को घूमने से
लगता है बारिश का मौसम आ गया..!
----

कही फिसल ना जाओ..,ज़रा संभल के रहना
मौसम बारिश का भी है
और मोहब्बत का भी है

पहली बारिश शायरी इन हिंदी

यु हैरत से ताकता है सहरा बारिश के नज़राने को,
कितनी दूर से आई है ये रेत से हाथ मिलाने को।
----

मुझे, बारिश की बूंदों में झलकती है उसकी तस्वीर,
आज फिर भीग बैठे है उसे पाने की चाहत में।
----

जब भी होगी पहली बारिश..,तुमको सामने पायेंगे
वो बूंदों से भरा चेहरा तुम्हारा हम देख तो पायेंगे
------

मेरी निगाहे तरस गई है तेरे आने के इंतजार में, ये धरती भी प्यासी है तेरे आने के इंतजार में, ये बारिश तु अब तो बरस जा, नया जीवन तु सब को तो दे जा।
----

ये बारिशों से दोस्ती...,अच्छी नहीं फ़राज़
कच्चा तेरा मकान है
कुछ तो ख्याल करो !!
----

सुना है बहुत बारिश हुई है तुम्हारे शहर में,
ज्यादा भीगना मत..अगर धूल गई सारी ग़लतफहमियां,
तो फिर बहुत याद आएंगे हम!!

Related Posts

Subscribe Our Newsletter

0 Comments to "Pehli Barish Shayari | पहली बारिश शायरी इन हिंदी"

एक टिप्पणी भेजें