धोखेबाज शायरी | Dhokebaaz Shayari

 Dhokebaaz Shayari मतलब की कोई इंसान किसी को जब धोखा देता है और सामने वाले को की कौन कौन उसे धोखादे रहा है to वह सामने वाले को जलने के लिए धोखेबाज शायरी, स्टेटस, कोट्स, शेयर कर सामने वाले को हकीकत दिखा सकता है.

Dhokebaaz Shayari 2 Line

ऐसे धोखेबाज दोस्तों से दूर रहना चाहिए,
जो सिर्फ अपने बारे में सोचते हैं और हमारे बुरे वक्त आने पर हमारा साथ छोड़ देते हैं।
धोखेबाज शायरी | Dhokebaaz Shayari

धोखेबाज दोस्तों को पहचान कर उन्हें अपने जिन्दगी से निकल देना चाहिए,
नहीं तो जीवन से सुख-चैन छीन लेते हैं।
धोखेबाज शायरी | Dhokebaaz Shayari

एक जंगली पशु की तुलना में धोखेबाज दोस्त ज्यादा भयप्रद होता है।
जंगली पशु सिर्फ शरीर को घायल करता है, लेकिन एक धोखेबाज दोस्त दिमाग को घायल करने की क्षमता रखता है
– गौतम बुद्ध
धोखेबाज शायरी | Dhokebaaz Shayari

अब जब भी dosti का हिसाब गिनने बैठता हूँ..की कितने dost मिले और कितने दुश्मन तो अक्सर दोस्ती का हिसाब Zero ही मिलता है।

Read  More:- Gaddar GF Shayari

धोखेबाज शायरी फोटो

गलती मेरे दोस्तों की नहीं..की उन्होंने मेरी आँखें खोल दी..गलती मेरी थी जो मैंने उन पर आँख बंद कर के भरोसा किया।
-----

Dhokebaaz दोस्तों को तब ही याद आती है...,जब उन्हें कोई मतलब होता है।.
-----

जो दोस्ती हकीकत लग रही थी..,वो सब ख़्वाब निकले,
जिन्हे मानता था..सच्चा साथी वो सारे सांप निकले..।
-----

...ये सोच कर मैंने मेरी आस्तीन नहीं झटकी की ना जाने कितने @सांप मेरे ऐसा करने से बेघर हो खाएंगे।
-----

किसी भी Dhokebaaz दोस्त पर इतना #विश्वास नहीं करना चाहिए..,कि भरोसा और प्यार के साथ-साथ जिंदगी भी खत्म हो जाए।
-----

अच्छा चलता हूँ दोस्तों...,मतलब हो तो ज़रूर याद करना।
-----

वो ढूंढ रहे थे मुझसे पीछा छुड़ाने का तरीक़ा मैंने@खफा होकर उनकी राह आसान कर दी।
-----

दुश्मनों को देखा है हमने दिल से रिश्ते निभाने का हुनर दोस्तों में हमने बस दग़ाबाज़ी देखी है।
-----

छुपा कर, दिखा कर, हर पैतरें आजमाकर उसने गद्दारी कि मुझे अपना बना कर।
-----

देख कर रूप उनका मैं दाग हो गया, हर दोस्त मेरा दुश्मनों के संग हो गया।
-----

अब यही चाल चलन दिखती है, अब दोस्तों की बधाई में भी जलन दिखती है।
-----

उस दुश्मन से मत डरो...,जो तुम पर हमला करता है।
हां, उस धोखेबाज दोस्त से सतर्क रहो,
जो तुम्हें गले लगाकर धोखा देता है...।

Related Posts

Subscribe Our Newsletter

0 Comments to "धोखेबाज शायरी | Dhokebaaz Shayari"

एक टिप्पणी भेजें