Heart touching khamoshi shayari | खामोशी पर सुविचार

Heart touching khamoshi shayari खामोशी पर सुविचार, बेवजह खामोशी शायरी.

ख़ामोशी कब हम सभी की दोस्त बन जाती है हमें पता भी नहीं चलता. हम खामोश तो रहते है पर इसका मतलब यह नहीं की हमें कुछ कहना नहीं है हम खामोश इसलिए है की हमें कोई सुनने वाला नहीं है.

इस ख़ामोशी को अपने शब्दों में बया करने के लिए हम आपके लिए कुछ खामोशी शायरी ले कर आये है.

Khamoshi quotes in hindi

Is samasya se nipatane ke lie
kisee ko samajh mein nahin aaya mujhe khaamosh hone ke baad
कोई समझ नहीं पाएगा मेरे हालात की गहराई को
किसी ने समझा ही कहाँ है मुझे खामोश होने के बाद
Heart touching khamoshi shayari | खामोशी पर सुविचार

Best Heart touching khamoshi shayari

Kaun Kehta Hai Khamoshiya Kamosh Hoti Hai,
Khamoshiyo Ko Khamoshi Se Suno,
Kabhi-Kabhi Khamoshiya Vo Keh Deti Hai,
Jinki Aapko Lafzo Mein Talash Hoti Hai...
कौन कहता है खामोशिया खामोश होती है,
खामोशियों को ख़ामोशी से सुनो, 
कभी-कभी खामोशिया वो कह देती है, 
जिनकी आपको लफ़्ज़ों में तलाश होती है...
Heart touching khamoshi shayari | खामोशी पर सुविचार

meree khaamoshiyon mein bhee mujhe phasaane ko khoj letee hai,
badee chatur hai ye duniya bahaana dhoondh letee hai,
hakeekat jid kar baithee hai chakanaachoor karane ko mujhe,
magar yah meree aankh hai phir sapana suhaana dhoondh letee hai.
मेरी खामोशियों में भी मुझे फसाने को खोज लेती है,
बड़ी चतुर है ये दुनिया बहाना ढूंढ लेती है,
हकीकत जिद कर बैठी है चकनाचूर करने को मुझे,
मगर यह मेरी आंख है फिर सपना सुहाना ढूंढ लेती है।
Heart touching khamoshi shayari | खामोशी पर सुविचार

jab koee khyaal dil se takaraata hai,
dil na chaah kar bhee khaamosh rah jaata hai,
koee sab kuchh kah kar bhee pyaar na jata paata hai,
koee kuchh na kahakar bhee sabakuchh kahakar chala jaata hai.
जब कोई ख्याल दिल से टकराता है,
दिल न चाह कर भी खामोश रह जाता है,
कोई सब कुछ कह कर भी प्यार न जता पाता है,
कोई कुछ न कहकर भी सबकुछ कहकर चला जाता है।
When an idea strikes the heart,
Heart remained silent even though it does not want to remain silent,
No one can express love even after saying everything.
Somebody goes by saying everything even after saying nothing.
Heart touching khamoshi shayari | खामोशी पर सुविचार

ये तूफ़ान यूँ ही नहीं आई है,
इससे पहले इस तूफ़ान की दस्तक भी आई थी,
ये मंजर जो दिख रहा है तेज आंधियों का,
इससे पहले यहाँ एक ख़ामोशी भी छाई थी…!!
Heart touching khamoshi shayari | खामोशी पर सुविचार
Heart touching khamoshi shayari

खामोशी पर सुविचार

असलियत में खामोशी कभी भी खामोश नहीं रहती,
कभी तुम ग़ौर से सुनना बहुत किस्से है सुनाती

=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=

उसके बिना अब चुपचुप रहना अच्छा लगता है,
ख़ामोशी से दर्द को सहना अच्छा लगता है,
जिस हस्ती की याद में दिन भर आंसू बहते हैं,
सामने उस के कुछ न कहना अच्छा लगता है,
मिल कर उस से बिछड़ न जाऊं डरती रहती हूँ,
इसलिए बस दूर ही रहना अच्छा लगता है…!!!

=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=

जब्त कहता है कि खामोशी से बसर हो जाये,
दर्द की जिद है कि दुनिया को खबर हो जाये।

=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=

खामोशीयाँ
कितना कुछ बोल जाती है ना यह खामोशीयाँ
कहीं दिलों के दर्द छुपा जाती है तो कहीं सबअब-इ-हयात-इ-मुहब्बत.
ईतनी शिकायतें करतीं हैं ईतनी रुसवाई झेलती है.
खामोशीयाँ मजबूरी में होती हैं और कही आदत बन जाती है.
आसुओं में बह जाते हैं और किसी किसी को अच्छी लगती है.
खामोशीयाँ सिर्फ गम नहीं छुपाती किसी कि बर्बादी तो किसी कि भलाई छुपाती है.
कितने अजीब होतें है हम सब कभी खामोशीयाँ को समझते नही और बाद में उसे पे इलज़ाम लगाते हैं.
खामोशीयाँ भी बोलतीं है उनकी भी आवाज होती है
जो सिर्फ दिल से सुनने वाले ही समझ सकते हैं.
खैर मेरी ख़ामोशी तो कोई समझें गा नहीं क्यों की आप पढने वाले हो सुनने वाले नहीं.. 😌

=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=

वो ख़ामोश हुआ तब हमने जाना 
ख़ामोशी के कितने सारे लहजे होते हैं

=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=

कोई समझ नहीं पाएगा मेरे हालात की गहराई को
किसी ने समझा ही कहाँ है मुझे खामोश होने के बाद

=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=/=

तुम्हारी खामोशी बहुत कुछ कहती है
और हम बोल कर भी बोल नहीं पाते

Related Posts

Subscribe Our Newsletter

0 Comments to "Heart touching khamoshi shayari | खामोशी पर सुविचार"

एक टिप्पणी भेजें